Amika Chitranshi
Aahar Samhita by Amika

- Advertisement -

- Advertisement -

केंद्र में बिना किसी मूल्य कटौती के सूखे या मुरझाए और टूटे हुए अनाज के बारे में आमतौर पर पूछे जाने…

केंद्र ने भारतीय खाद्य निगम-एफसीआई को बिना किसी मूल्य कटौती के 18 प्रतिशत तक सूखे या मुरझाए हुए और टूटे हुए अनाज के बारे में आम तौर पर पूछे जाने वाले प्रश्नों-एफएक्यू में छूट देकर केंद्रीय पूल के लिए केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ सहित पंजाब…

भारत ने खाद्य सुरक्षा और किफायती खाद्यान्न सुनिश्चित करने पर ध्यान केंद्रित किया

सरकार ने कहा है कि गेहूं के निर्यात को प्रतिबंधित करने के निर्णय से खाद्यान्न की कीमतों पर नियंत्रण होगा, भारत और खाद्य पदार्थों की कमी वाले देशों की खाद्य सुरक्षा मजबूत होगी और भारत एक विश्वसनीय आपूर्तिकर्ता बना रहेगा क्योंकि यह सभी…

भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) और आयुष मंत्रालय ने ‘आयुर्वेद आहार’…

आयुष मंत्रालय और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के तहत खाद्य विनियमन के लिए भारत के शीर्ष संगठन भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने 'आयुर्वेद आहार' श्रेणी के तहत खाद्य उत्पादों के लिए सुरक्षा और गुणवत्ता मानकों के…

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने एनएफएचएस-5 रिपोर्ट जारी की

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ मनसुख मंडाविया ने आज गुजरात के वडोदरा में आयोजित 'स्वास्थ्य चिंतन शिविर' में गुजरात के मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्रभाई पटेल और केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री डॉ भारती प्रवीण पवार…

देश में अनाज की कुल उपलब्धता आवश्यकता से अधिक: खाद्य सचिव

खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग (डीएफपीडी) के सचिव, श्री सुधांशु पांडे ने कहा कि अनाज की कुल अधिशेष उपलब्धता के साथ भारत खाद्य क्षेत्र में एक सुखद स्थिति में है और स्टॉक में अगले एक साल के लिए आवश्यक न्यूनतम सीमा से अधिक अनाज रहने की उम्मीद…

क्षेत्रीय आहार से दवाई के लिए सुलभ होती औषधीय केवाँच

केवाँच जिसे किवाँच या कौंच के नाम से भी जाना जाता है आज कल चर्चा में है। भारत सरकार द्वारा औषधीय पौधों की खेती को बल दिया जा रहा है। ऐसी खेती को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने/ राष्ट्रीय आयुष मिशन की ओर से अनुदान की व्यवस्था की है। औषधीय पौधों…

‘स्वदेशी ज्ञान और स्वास्थ्य देखभाल: आगे का रास्ता’

जनजातीय कार्य मंत्रालय के सहयोग से जनजातीय अनुसंधान संस्थान, तेलंगाना ने संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के तकनीकी सहयोग से 19 जनवरी से 20 जनवरी 2022 तक 'स्वदेशी ज्ञान और स्वास्थ्य देखभाल: आगे का रास्ता' विषय पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन…

“बेस्ट बिफोर डेट” प्रदर्शित करना हुआ अनिवार्य

खुली बिकने वाली मिठाइयाँ कितने समय तक इस्तेमाल करना अच्छा है अब इसका पता चल सकेगा। फूड सेफ़्टी एण्ड स्टैण्डर्ड अथॉरिटी ऑफ इण्डिया (एफएसएसआई) ने खुली बिकने वाली मिठाइयों के लिए दिशा निर्देश जारी किए हैं। दिशा निर्देश "मैनुफेक्चरिंग डेट" और…

प्रधानमंत्री ने पोषण जागरूकता को जन आंदोलन बनाने में पोषण माह के महत्व पर प्रकाश डाला

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 'मन की बात' कार्यक्रम में अपने नए संबोधन में कहा कि सितंबर के महीने को पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्र और पोषण बहुत निकटता से जुड़े हुए हैं। उन्होंने "यथा अन्नं तथा मनम्" कहावत का…

अण्डे का फण्डा सेहत से इम्यूनिटी तक

"संडे हो या मंडे रोज़ खायें अण्डे" बचपन से बहुत लोग इसे सुनते गुनगुनाते आए होंगे। सेहत बनानी है तो रोज अण्डा खाओ ये भी सुनते आए हैं। पर "रोज़ खाएं अण्डे" इसके बारे में अलग समय पर कई सिफ़ारिशें हुई हैं। अण्डा रोज़ खा सकते हैं कि नहीं, कितना खा…

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More